इंटरनेट के भाग (डीप वेब, डार्क वेब, सर्फेस वेब)।part of Internet(Deep web, Dark web,surface web)

इंटरनेट के भाग (डीप वेब, डार्क वेब, सर्फेस वेब)।Part of Internet(Deep web, Dark web,surface web)




हम सब लोग इंटरनेट का यूज तो करते ही हैं। पर अगर मैं कहूं कि गूगल याहू बिंग और यूटयूब पर इंटरनेट का सिर्फ 4% ही उपलब्ध है तो आप यकीन करेंगे नहीं ना पर सच्चाई यही है. एक आम इंसान अपने पूरे जीवन भर  इस 4% इंटरनेट को भी यूज नहीं कर पाता है.


deep web dark web stories
Deep web 



दोस्तो इन्टरनेट के 96% हिस्से के बारे में आम आदमी को पता भी नहीं चलता है. क्योंकि यह 96% हिस्सा अच्छे और बुरे दोनों चीजों से भरा पड़ा है और इस हिस्से को एक आम आदमी एक्सेस भी नहीं कर पाता क्योंकि ये हमारे नॉर्मल ब्राउजर से एक्सेस नहीं किए जा सकते है और गूगल पर इंडेक्स भी नहीं होते है. इंटरनेट का 96% हिस्सा DEEP WEB,DARK WEB,and MARIYANA WEB पर है.

दोस्तो अब मै आपको इन सब के बारे में बारी बारी बताऊंगा .

1.SURFACE WEB 


surface web deep web
internet



Surface web internet का वह हिस्सा है जो हम और आप daily use करते हैं जैसे कि गूगल, फेसबुक, यूटयूब  मतलब वह सब जो कुछ भी गूगल के सर्च इंजन में इंडेक्स हो और जिसे हम नॉर्मल ब्राउजर से एक्सेस कर सकते है सर्फेस वेब है जो कि इंटरनेट का सिर्फ 4% ही हैं.

2.DEEP WEB:


deep web
Deep web

डीप वेब एक एन्क्रिप्टेड नेटवर्क है जिसे एक स्पेशल गुप्त अछरो से छिपा कर रखा जाता है जिसे हम पासवर्ड भी कह सकते हैं। और खास बात तो यह है कि ये वेबसाइट किसी भी सर्च इंजन में इंडेक्स नहीं होती हैं। क्योंकि ये सारी वेबसाइटें एन्क्रिप्ट की होती हैं। इस तरह की वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए एक स्पेशल ब्राउजर की जरूरत पड़ती है, जिसे TOR ब्राउजर कहा जाता हैं। इस ब्राउज़र की मदद से आप 99.9% Anonymous हो जाते है जिससे आपको कोई भी ट्रैक नहीं कर सकता है.


अब सवाल ये उठता है कि इसे हम नॉर्मली एक्सेस क्यों नहीं कर सकते आखिर ऐसा क्या है? तो बात यह है कि डीप वेब या यूज सीक्रेट सर्विस के लिए किया जाता हैं इस वेब का मेनली उपयोग आर्मी, बहुत से कॉलेज अपने एकेडमिक डेटा को भी रखते हैं, सीक्रेट एजेंसी और रिसर्च ऑर्गनाइजेशन करती हैं। क्योंकि इस तरह की वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए Tor  ब्राउजर के साथ उस वेबसाइट कि URL ,और आईडी पासवर्ड होना जरूरी है.

3.Dark web:

dark web
Dark web


डार्क वेब यह इंटरनेट का सबसे गन्दा और डरावना जगह है। यहां हर वो खराब चीज मौजुद है जिसके बारे में आपने पहले कभी भी नहीं सोचा होगा । इंटरनेट के इस कोने में सभी इल्लीगल कामो को अंजाम दिया जाता है जैसे कि ड्रग्स बेचना,एटीएम कार्ड की डिटेल्स को बेचना,किसी के मर्डर के लिए हीट मैन हायर करना,किसी को तड़पा कर मारना और दिखाने के पैसे लेना (लाइव मर्डर), डार्क वेब सभी आतंकवादी संगठनों का आपस में कम्युनिकेट करने का डेटा सेव और शेयर करने का जरिया है, हैकर किसी भी देश के गवर्नमेंट कि गुप्त जानकारियों को हैक करके उसे यहां पर बेच देते है, यहां तक कि इस वेब पर चाइल्ड पॉर्नाग्राफी भी होती है। इन वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए इनका वेब एड्रेस होना जरूरी है यही कारण है कि सरकार ऐसे लोगो को जल्दी पकड़ नहीं पाती हैं. फिर भी सरकार लगातार ऐसे वेबसाइट का पता लगाकर उन्हें बंद कर रही हैं.


4.Mariyana web:

आप अगर आप मारियाना वेब और इंटरनेट के कुछ अनसुलझे रहस्य के बारे में जानना चाहते है तो मेरे इस ब्लॉग को पढ़िए:

Kaisa LGA ye post Dost comments karke mujhe btana naa bhule aur jankari achi lage toh share karna na bhule.

1 Comments

  1. I always replied to this blog post and its been a long time since I came into knowledge of this blog. One of my friend’s suggestion worked for me and I am still regular to read every post of this blog. modbsolutions

    ReplyDelete

Post a Comment

Previous Post Next Post